Search
Saturday 23 March 2019
  • :
  • :

कीर्ति ने थामा कांग्रेस का हाथ, बीजेपी को बाय-बाय

बिहार के राजनीतिक गलियारे में जैसी उम्मीद थी, वैसा ही हुआ। बीजेपी से निलंबित दरभंगा के सांसद कीर्ति आजाद ने आखिर कांग्रेस का हाथ थाम लिया। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलायी। वे पहले 15 फरवरी को ही पार्टी में शामिल होनेवाले थे, लेकिन पुलवामा आतंकी हमले के बाद कार्यक्रम 18 फरवरी के लिए आगे बढ़ गया था।

बता दें कि कीर्ति आजाद बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री भागवत झा आजाद के बेटे हैं तथा वर्षों से वे भाजपा में थे। वे भागलपुर निवासी होने के बाद भी दरभंगा से बीजेपी के टिकट पर चुनाव जीतते रहे हैं। पिछले साल भाजपा के वरीय नेता अरुण जेटली पर आरोप लगाने के बाद उन्हें पार्टी ने निलंबित कर दिया था। इसके बाद कीर्ति का झुकाव कांग्रेस की ओर बढ़ रहा था। फिर वे सोमवार को दिल्ली में राहुल गांधी के समक्ष कांग्रेस में शामिल हो गए।

इधर राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने उन्हें पाग और कांग्रेस का दुपट्टा पहनाकर स्वागत किया। कीर्ति आजाद ने भी राहुल गांधी का मिथिला का पाग और मखाना का माला पहनाकर अभिनंदन किया। मौके पर बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल, प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा, राज्यसभा सांसद डॉ. अखिलेश प्रसाद सिंह, कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह समेत अन्य लोग उपस्थित थे।

अपने समय पर टीम इंडिया के महत्वपूर्ण खिलाड़ी रहे कीर्ति आजाद वर्ष 1999 में पहली बार दरभंगा लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी के सांसद चुने गए थे। जबकि, वर्ष 2004 में राजद के मो. अली अशरफ फातमी से चुनाव हार गए। इसके बाद वर्ष 2009 और 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में लगातार विजयी रहे। डीडीसीए मामले को लेकर केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली से विवाद होने के बाद उन्हें बीजेपी ने पार्टी से निलंबित कर दिया था। इसके बाद वे बीजेपी के खिलाफ बगावत कर बैठे।




AD