Search
Saturday 23 February 2019
  • :
  • :

गंगा पहुंची डाकघर, वहां से ले जाएं अपने घर

Gangajal 2जिन राज्यों से गंगा नदी नहीं गुजरती है, उन राज्यों के लिए बड़ी खुशखबरी. गंगाजल लाने के लिए वहां के लोगों को अब गंगोत्री, ऋषिकेश, हरिद्वार या इलाहाबाद और बनारस के गंगा तट जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. अब गंगा जल डाकघरों के माध्यम से आपके घर पर उपलब्ध होगा. अगर आपको गंगा जल की जरूरत है, तो प्रधान डाकघर के काउंटर पर जाइए, निर्धारित कीमत अदा कीजिए और गंगाजल घर ले जाइए. फिलहाल यह अभी किसी भी राज्य के जीपीओ में मिलेगा.

 

 

पटना में मंत्रियों ने किया उद्घाटन
बिहार के पटना में केंद्रीय विधि, न्याय एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने 10 जुलाई को गंगोत्री एवं ऋषिकेश से संग्रहित गंगाजल का पटना जीपीओ से वितरण का शुभारंभ किया. उन्होंने कहा कि गंगोत्री और ऋषिकेश से संग्रहित गंगाजल के वितरण से डाक विभाग ने अपने को फिर से जीवंत करने का प्रयास किया है. मौके पर संचार व रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि डाकघर से मिलनेवाला गंगाजल शुद्ध होगा. वहीं केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री रामकृपाल यादव ने कहा कि मोदी सरकार में डाकघरों से गंगाजल घर-घर पहुंचाना सराहनीय पहल है

राजस्थान में भी मिलेगा गंगाजल
Gangajal 1पोस्टल विभाग द्वारा आरंभ की गयी इस अभिनव योजना के तहत 11 जुलाई को जोधपुर प्रधान डाकघर में गंगाजल बिक्री का शुभारंभ करते हुए राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएं कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि इस योजना से डाक विभाग लोगों से भावनात्मक स्तर पर भी जुड़ेगा. उन्होंने कहा कि गंगाजल वितरण से लाभ कमाने का मकसद नहीं है. दरअसल डाक विभाग ने गंगाजल के प्रति लोगों की असीम आस्था एवं विश्वास की पवित्र भावना का सम्मान करते हुए गंगोत्री व ऋषिकेश से संग्रहित गंगाजल को उन तक पहुंचाने का प्रयास है, जिससे कि लोग लाभान्वित हो सकें.

यह है महत्व
गंगाजल का विशेष महत्व है और परिवारों में पूजा-पाठ, अन्य धार्मिक अनुष्ठान, शादी-ब्याह और यहां तक कि श्राद्ध के वक्त गंगाजल की जरूरत होती है.

15 रुपये में 200 एमएल
विभिन्न राज्यों के प्रधान डाकघरों के माध्यम से 200 व 500 एमएल में ऋषिकेश से संग्रहित गंगाजल क्रमश: 15 और 22 रुपये तथा 200 व 500 एमएल में ही गंगोत्री से संग्रहित गंगाजल क्रमशः 25 और 35 रुपये में उपलब्ध होगा. हालांकि कुछ प्रधान डाकघरों में फिलहाल केवल ऋषिकेश का ही गंगाजल बिक्री के लिए उपलब्ध कराया गया है.

गांव वालों को अलग से लगेगा चार्ज
फिलहाल गंगाजल की बिक्री प्रधान डाकघरों में ही होगी. ऐसे में ऐसे में यदि कोई अपने द्वार पर ही गंगाजल मंगाना चाहता है, तो वह डाकघर में गंगाजल के मूल्य, पैकेजिंग चार्ज और स्पीड पोस्ट दर का अग्रिम भुगतान कर मंगा सकता है. ऐसे ग्राहकों को स्पीड पोस्ट से गंगाजल भेज दिया जायेगा.




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AD